बीरा थारी चुनड़ली रा चटका है दिन चार भजन लिरिक्स

बीरा थारी चुनड़ली रा चटका है दिन चार भजन लिरिक्स

बीरा थारी चुनड़ली रा, चटका है दिन चार, पुराणी पड़गी चुनड़ी।। आंखों से सुजे नहीं रे, सुणे ना दोनु कान, दांत बत्तीसी गिर …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे