भोमिया जी सरदार म्हारा राठोड़ी सिरदार घुड़ले रे घमके आइजो

0
73
बार देखा गया
भोमिया जी सरदार म्हारा राठोड़ी सिरदार

भोमिया जी सरदार,
म्हारा राठोड़ी सिरदार,
घुड़ले रे घमके आइजो,
म्हारा राठोड़ी सरदार।।



अरे चौथ चॉंदनी आई,

माण्डा में मेलो भारी,
मेला में बेगा आइजो जी,
रतनसिंह सरदार,
घुड़ले रे घमके आइजो,
म्हारा राठोड़ी सरदार।।



माण्डा नगरी माई थोरी,

जागी ज्योत सवाई,
आरतियों में बेगा आओ,
ओ भोमिया जी सरदार,
घुड़ले रे घमके आइजो,
म्हारा राठोड़ी सरदार।।



ढोल नगाड़ा बाजे,

झालर रो झणकार,
ढोलों रे ढमके आइजो जी,
राठोड़ी सरदार,
घुड़ले रे घमके आइजो,
म्हारा राठोड़ी सरदार।।



महेश लोहार जस गावे,

चरणा रे मई सिष नवावे,
म्हारो बेड़ो पार लगावोजी,
राठोड़ी सरदार,
घुड़ले रे घमके आइजो,
म्हारा राठोड़ी सरदार।।



भोमियाजी सरदार,

म्हारा राठोड़ी सिरदार,
घुड़ले रे घमके आइजो,
म्हारा राठोड़ी सरदार।।

प्रेषक – महेश चौहान सोजत
9166688427


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम