मैया तेरे नवराते हैं मैं तो नाचू छम छमा छम भजन लिरिक्स

0
4094
बार देखा गया
मैया तेरे नवराते हैं मैं तो नाचू छम छमा छम भजन लिरिक्स

मैया तेरे नवराते हैं,
मैं तो नाचू छम छमा छम,
छमाछम छमाछम छमाछम,
मैया तेरे जगराते हैं,
मैं तो गाऊं तेरे गुण,
छमाछम छमाछम छमाछम,
तेरी धुन में मगन,
मेरा झूम रहा तन,
जैसे नाचे है मोर,
देख रिमझिम सावन,
जैसे घिर आए फिर बदरा,
घनन घनन घन,
छमाछम छमाछम छमाछम,
मैया तेरे नवराते है,
मैं तो नाचू छम छमा छम।।



सज गई है सारी गलियां,

सज गए हैं चौबारे,
ऐसे में दिल ये मेरा,
मैया मैया पुकारे,
जी रहे हैं हम तो माता,
एक तेरे सहारे,
भर आएंगे मेरे नैना,
होंगे जो दर्शन तुम्हारे,
मैया मेरे घर में आना,
आकर कभी तू ना जाना,
करता रहूं तेरी सेवा,
हो जाए जीवन सुहाना,
तेरी धुन में मगन,
मेरा झूम रहा तन,
जैसे नाचे है मोर,
देख रिमझिम सावन,
जैसे घिर आए फिर बदरा,
घनन घनन घन,
छमाछम छमाछम छमाछम,
मैया तेरे नवराते है,
मैं तो नाचू छम छमा छम।।



गा रही है सारी दुनिया,

गा रहे भक्त सारे,
ऐसे ही सदा मैया,
संग रहना हमारे,
तुमने दी है यह खुशियां,
तुमसे ही है उजियारे,
करना यूं ही कृपा माँ,
हम हैं बालक तुम्हारे,
आए हैं दिन यह सुहाने,
दर्शन के बिन दिल ना माने,
चरणों में दे दो जगह हम,
तेरे दरश के दीवाने,
तेरी धुन में मगन,
मेरा झूम रहा तन,
जैसे नाचे है मोर,
देख रिमझिम सावन,
जैसे घिर आए फिर बदरा,
घनन घनन घन,
छमाछम छमाछम छमाछम,
मैया तेरे नवराते है,
मैं तो नाचू छम छमा छम।।



मैया तेरे नवराते हैं,

मैं तो नाचू छम छमा छम,
छमाछम छमाछम छमाछम,
मैया तेरे जगराते हैं,
मैं तो गाऊं तेरे गुण,
छमाछम छमाछम छमाछम,
तेरी धुन में मगन,
मेरा झूम रहा तन,
जैसे नाचे है मोर,
देख रिमझिम सावन,
जैसे घिर आए फिर बदरा,
घनन घनन घन,
छमाछम छमाछम छमाछम,
मैया तेरे नवराते है,
मैं तो नाचू छम छमा छम।।

स्वर – श्री लखबीर सिंह लक्खा जी,
प्रेषक – शेखर चौधरी,
मो – 9074110618


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम