लिखमोजी माला फेरी है अमरपुरा रे माई लिरिक्स

लिखमोजी माला फेरी है अमरपुरा रे माई लिरिक्स

लिखमोजी माला फेरी है, अमरपुरा रे माई। दोहा – शिरोमणी संत भगत लिखमोजी, ज्यारी महिमा अपार, गावे बजावे सुने साम्भले, ओ भवजल उतरे …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे