तू ले ले रे जो भी लेना है गुरुदेव भजन लिरिक्स

तू ले ले रे जो भी लेना है गुरुदेव भजन लिरिक्स

तू ले ले रे जो भी लेना है, दुनिया का खुला बाजार है ये, हर चीज मिलेगी तुझको यहाँ, दो दिन को खुला बाजार है ये, तू लेले रे जो भी लेना है।। तर्ज – छू लेने दो नाजुक होठो …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे