तू क्यूँ घबराता है तेरा श्याम से नाता है भजन लिरिक्स

तू क्यूँ घबराता है तेरा श्याम से नाता है भजन लिरिक्स

तू क्यूँ घबराता है, तेरा श्याम से नाता है, जब मालिक है सिर पे, क्यों जी को जलाता है, तू क्यूँ घबराता हैं, तेरा श्याम से नाता है।। तू देख विनय करके, तेरी लाज बचाएगा, तू जब भी बुलाएगा, हर …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे