तू ही है सबका दाता तू महावीर कहलाता भजन लिरिक्स

तू ही है सबका दाता तू महावीर कहलाता भजन लिरिक्स

तू ही है सबका दाता, तू महावीर कहलाता, जो ध्याये मन से तुमको, वो मन चाहा फल पाता, दर्शन तो हमें तुम दे देना, भक्ति से भर देना।। तर्ज – सूरज कब दूर गगन। आशा के दीप जलाकर, हम तम …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे