तू ही आधार मेरा दिल से कहता हूं एक शाम है प्यार मेरा

तू ही आधार मेरा दिल से कहता हूं एक शाम है प्यार मेरा

तू ही आधार मेरा, तू हीं आधार मेरा, दिल से कहता हूं, एक शाम है प्यार मेरा।। तर्ज – ये मेरी अर्जी है। दर तेरे जो आते हैं, दर तेरे जो आते हैं, खाली नहीं जाते, ऐसा दरबार तेरा।। जहां …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे