अम्बे अम्बे माँ अम्बे अम्बे लख्खा जी भजन लिरिक्स

अम्बे अम्बे माँ अम्बे अम्बे लख्खा जी भजन लिरिक्स

अम्बे अम्बे माँ अम्बे अम्बे, अम्बे अम्बे भवानी माँ जगदम्बे।। तर्ज – छम्मा छम्मा बाजे रे तेरी। श्लोक – जिसने वर माँगा, तो …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे