लीला घनश्याम की न्यारी है भजन लिरिक्स

लीला घनश्याम की न्यारी है भजन लिरिक्स

लीला घनश्याम की न्यारी है, राधाजी को छलने आए बन मणियारी है॥ (तर्ज :- आज मेरे यार की शादी है) श्लोक कभी माखन चुराते …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे