कहाँ तू खोज रहा रे प्राणी तेरे मन मन्दिर में राम लिरिक्स

कहाँ तू खोज रहा रे प्राणी तेरे मन मन्दिर में राम लिरिक्स

कहाँ तू खोज रहा रे प्राणी, तेरे मन मन्दिर में राम, नहीं अवध नहिं गोकुल में प्रभु, नहीं द्वारका धाम, तेरे मन मन्दिर में राम।। मन में तेरे मैल जमी है, अँखियन मोह की पट्टी पड़ी है, दीखत नाहीं राम, …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे