संतो री महिमा कहाँ लग करू रे बड़ाई देसी भजन

संतो री महिमा कहाँ लग करू रे बड़ाई देसी भजन

संतो री महिमा, कहाँ लग करू रे बड़ाई। दोहा – शरणे आये री विनती, प्रभु रखिये मेरी लाज, संता सोरो राखजे, ज्यू हरि राख्यो प्रह्लाद। आज भी तेरी आस हैं, तो कल भी तेरी आस, आस तुम्हारी लग रही, तो …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे