कहाँ छुप गया तू कहाँ तुझको ढूँढू ओ मेरे मन के मीत लिरिक्स

कहाँ छुप गया तू कहाँ तुझको ढूँढू ओ मेरे मन के मीत लिरिक्स

कहाँ छुप गया तू, कहाँ तुझको ढूँढू, ओ मेरे मन के मीत, ओ मेरे मन के मीत, मन वीणा की, टूटी है तारे, बिखरा मेरा संगीत, ओ मेरे मन के मीत, ओ मेरे मन के मीत।। क्या थी वो राते, …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे