कभी दुर्गा बनके कभी काली बनके चली आना भजन लिरिक्स

कभी दुर्गा बनके कभी काली बनके चली आना भजन लिरिक्स

कभी दुर्गा बनके, कभी काली बनके, चली आना, मैया जी चली आना।। तर्ज – कभी राम बनके। ब्रम्हचारिणी रूप में आना, ब्रम्हचारिणी रूप …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे