जुलम कर डारयो सितम कर डारयो भजन लिरिक्स

जुलम कर डारयो सितम कर डारयो भजन लिरिक्स

जुलम कर डारयो सितम कर डारयो, दोहा – राधा आई सखियाँ आई, लेकर रंग गुलाल, काले रे काले कान्हा ने, कैसो कर दियो लाल। जुलम कर डारो सितम कर डारो, काले ने कर दियो लाल, जुलम कर डाल्यो।। आयो नज़र …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे