गोकुल गाँव में बजत बधाई चलो री सखी देखन चले लिरिक्स

गोकुल गाँव में बजत बधाई चलो री सखी देखन चले लिरिक्स

गोकुल गाँव में बजत बधाई, चलो री सखी देखन चले, चलो री सखी देखन चले, चलो री सखी हम भी चले, गोकुल गांव में बजत बधाई, चलो री सखी देखन चले।। चांदी के पलना में बैठे है लाल जी, पलना …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे