घर घर में बस रहा है मेरा श्याम खाटू वाला लिरिक्स

घर घर में बस रहा है मेरा श्याम खाटू वाला लिरिक्स

घर घर में बस रहा है, मेरा श्याम खाटू वाला। दोहा – नाज है हमको आज, अपनी तकदीरो पर, हे श्याम हमको जो तेरा, आज दीदार हुआ, सूना सूना पड़ा था ये दिल, गुलजार हुआ। घर घर में बस रहा …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे