गरजे रण में पवन कुमार सम्भल ऐ लंका के सरदार लिरिक्स

गरजे रण में पवन कुमार सम्भल ऐ लंका के सरदार लिरिक्स

गरजे रण में पवन कुमार, सम्भल ऐ लंका के सरदार।। बोले बजरंगबली होश में आ लंकेश्वर, काल मंडरा रहा है आज तुम्हारे सर पर, कोई भी लंका के ये वीर बच ना पाएंगे, साथ में तेरे सब बेमौत मारे जाएंगे, …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे