हे माँ जगदंबे थारी चुनरी रो लाल रंग मन भावे भजन लिरिक्स

हे माँ जगदंबे थारी चुनरी रो लाल रंग मन भावे भजन लिरिक्स

हे माँ जगदंबे थारी चुनरी रो, लाल रंग मन भावे, हे मां जगदंबे थारी चुनरी रो, लाल रंग मन भावे, आई नवरात्रि मन में उमंग बड़ी, माता ने रिझावण री, गरबो रमणे की घड़ी, शहनाई ढोल नगाड़ा बाज रयो, मिरदंग …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे