अरे माखन की चोरी छोड़ साँवरे मैं समझाऊँ तोय भजन लिरिक्स

अरे माखन की चोरी छोड़ साँवरे मैं समझाऊँ तोय भजन लिरिक्स

अरे माखन की चोरी छोड़, साँवरे मैं समझाऊँ तोय, मैं समझाऊँ तोय, कन्हैया मैं समझाऊँ तोय, अरें माखन की चोरी छोड़, साँवरे मैं …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे