एक दिन वो भोला भंडारी बनकर सुन्दर नारी भजन लिरिक्स

एक दिन वो भोला भंडारी बनकर सुन्दर नारी भजन लिरिक्स

एक दिन वो भोला भंडारी, बनकर सुन्दर नारी, गोकुल में आ गए हैं। पार्वती ने मना किया तो, ना माने त्रिपुरारी, बिरज में आ गए हैं।। तर्ज – मिलो न तुम तो हम। पार्वती से बोले भोले, मैं भी चलूँगा …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे