मंगल की सेवा सुन मेरी देवा काली माता आरती लिरिक्स

मंगल की सेवा सुन मेरी देवा काली माता आरती लिरिक्स

मंगल की सेवा सुन मेरी देवा, हाथ जोड़ तेरे द्वार खड़े, पान सुपारी ध्वजा नारियल, ले ज्वाला तेरी भेंट धरे, सुन जगदम्बे कर …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे