Tag: नगीने

राम भजन

सीताराम दरश रस बरसें जेसे सावन की झड़ी भजन लिरिक्स

सीताराम दरश रस बरसें, जैसे सावन की झड़ी।। ​श्लोक – चहुं दिशि बरसें राम रस, छायों हरस अपार, राजा रानी […]

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।