लाल चुनर लहराई रे जननी हे अम्बे माँ भजन लिरिक्स

लाल चुनर लहराई रे जननी हे अम्बे माँ भजन लिरिक्स

लाल चुनर लहराई रे, जननी हे अम्बे माँ, तेरी बहुत बड़ी सकलाई रे, हो ओ ओ लाल चुनर लहरायी रे, जननी हे अम्बे …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे