जख्मी दिल ये पुकारे सुनले हारे के सहारे लिरिक्स

जख्मी दिल ये पुकारे सुनले हारे के सहारे लिरिक्स

जख्मी दिल ये पुकारे, सुनले हारे के सहारे। दोहा – वार किये है अपनों ने, सबने किया किनारा, डगमग नैया भवर में डोले, …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे