छोड़ चला रे बंजारा गठडी छोड़ चला बंजारा लिरिक्स

छोड़ चला रे बंजारा गठडी छोड़ चला बंजारा लिरिक्स

छोड़ चला रे बंजारा, गठडी छोड़ चला बंजारा।। इस गठरी में चांद और सूरज, इस गठरी में चांद और सूरज, इसमें नौ लख …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे