छायें गम के अँधेरे भी हो श्याम भजन लिरिक्स

छायें गम के अँधेरे भी हो श्याम भजन लिरिक्स

छायें गम के अँधेरे भी हो, मेरी कश्ती भंवर में भी हो, मेरी मंजिल मेरा श्याम है, श्याम प्रेमी को विश्वास है, हर …

पूरा भजन देखें

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे