ना सोना काम आएगा ना चांदी आएगी

जिंदगी में हजारों का मेला जुड़ा
विविध भजन

ना सोना काम आएगा ना चांदी आएगी,
सजधज कर जिस दिन मौत की, शहजादी आएगी,
ना सोना काम आएगा, ना चांदी आएगी।।

छोटा सा तू, कितने बड़े अरमान हैं तेरे,
मिट्टी का तु, सोने के सामान हैं तेरे,
मिट्टी की काया मिट्टी में जिस दिन समाएगी,
ना सोना काम आएगा, ना चांदी आएगी।।

पर तोल ले तू पंछी पिंजरा तोड़ के उड़ जा,
माया महल के सारे बंधन छोड़ के उड़ जा।
धड़कन में जिस दिन मौत तेरी गुनगुनायेगी
ना सोना काम आएगा, ना चांदी आएगी।।

जैसा किया है तुने तेरे साथ जायेगा,
बोये है काँटे तूने केसे फ़ुल पायेगा,
ये पाप कि गठरी तुझे एक दिन डुबायेगी,
ना सोना काम आएगा, ना चांदी आएगी।।

भाई भतीजे बन्धू सब मतलब के है सारे,
कोइ नही कुछ काम तेरे आयेगे प्यारे,
करनी हि तेरी बावरे संग तेरे जाएगी,
ना सोना काम आएगा, ना चांदी आएगी।।

सज धज कर जिस दिन मौत की शहजादी आएगी,
ना सोना काम आएगा, ना चांदी आएगी।।
ना सोना काम आएगा ना चांदी आएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।