हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना भजन लिरिक्स

हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना भजन लिरिक्स

हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना, 
लागी लगन मत तोडना,
प्यारे लागी लगन मत तोडना।। 



खेती बोआई मैंने तेरे नाम की,

खेती बोआई मैंने तेरे नाम की,
मेरे भरोसे मत छोडना, 
मेरे भरोसे मत छोडना, 
हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना।।



जल है गहरा नाव पुरानी,

जल है गहरा नाव पुरानी,
बीच भवर मत छोडना, 
बीच भवर मत छोडना, 
हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना।।



तू ही मेरा सेठ है तू ही साहूकार है, 

तू ही मेरा सेठ है तू ही साहूकार है, 
ब्याज पे ब्याज मत जोड़ना, 
ब्याज पे ब्याज मत जोड़ना, 
हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें