आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया भजन लिरिक्स

आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया, चारों दूल्हा में बड़का कमाल सखिया।। शेषमणि मोरिया कुंडल सोहे कनुआ, कारी कारी कजरारी जुल्मी नयनवा, लाल चंदन सोहे इनके भाल सखियां, चारों दूल्हा...

राम जी से पूछे जनकपुर की नारी भोजपुरी भजन लिरिक्स

राम जी से पूछे जनकपुर की नारी, बता दा बबुआ लोगवा देत कहे गारी, बता दा बबुआ।। तोहरा से पुछु मैं ओ धनुषधारी, एक भाई गोर काहे एक...

कृष्ण भजन लिरिक्स

फ़िल्मी तर्ज भजन

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।