शेरावाली के दो नैन प्यारे प्यारे भजन लिरिक्स

0
7345
बार देखा गया
शेरावाली के दो नैन प्यारे प्यारे भजन लिरिक्स

शेरावाली के दो नैन प्यारे प्यारे,
तेरे मुकुट में चमके सितारे,
अब मुझे गगन से क्या लेना क्या लेना,
शेरावाली के दो नैन प्यारें प्यारे,
तेरे मुकुट में चमके सितारे।।

तर्ज – तेरे होंठो के दो फूल प्यारे।



तेरा टीका चमचम चमके,

तेरी बिंदियो से होता उजाला,
तेरा झुमका दमदम दमके,
तेरे होने से होता सवेरा,
तेरी शक्ति है अपार,
तुझको पूजे ये संसार,
मैया अपनी कृपा दिखा जाना दिखा जाना,
शेरावाली के दो नैन प्यारें प्यारे,
तेरे मुकुट में चमके सितारे।।



तेरा चोला चमचम चमके,

तेरी चुनरी से होता सवेरा,
तेरा नेवर दमदम दमके,
तेरी नथनी से होता सवेरा,
मैया एक तेरा साथ,
मेरे सिर पे हो हाथ,
मेरा बेड़ा पार लगा जाना लगा जाना,
शेरावाली के दो नैन प्यारें प्यारे,
तेरे मुकुट में चमके सितारे।।



तेरा कंगना खनखन खनके,

तेरी मेहंदी से होता उजाला,
तेरी पायल छमछम छमके,
तेरे बिछुए से होता सवेरा,
हम आए तेरे द्वार,
लाए सोलह सिंगार,
अब भक्ति का अलख जगा जाना जगा जाना,
शेरावाली के दो नैन प्यारें प्यारे,
तेरे मुकुट में चमके सितारे।।



शेरावाली के दो नैन प्यारे प्यारे,

तेरे मुकुट में चमके सितारे,
अब मुझे गगन से क्या लेना क्या लेना,
शेरावाली के दो नैन प्यारें प्यारे,
तेरे मुकुट में चमके सितारे।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम