होम भजन पेज 173
मिलेगा साँवरिया बजेगी बाँसुरिया भजन लिरिक्स

मिलेगा साँवरिया बजेगी बाँसुरिया भजन लिरिक्स

मिलेगा साँवरिया, बजेगी बाँसुरिया, जनम अनमोल रे, तु राधे राधे बोल रे।। आदि शक्ति श्री राधा रानी, महिमा जिनकी वेद बखानी, हृदय के पट खोल रे, तु राधे राधे...
श्याम की कोई खबर लाता नहीं भजन लिरिक्स

श्याम की कोई खबर लाता नहीं भजन लिरिक्स

श्याम की कोई खबर लाता नहीं, बिन खबर हमसे रहा जाता नहीं।। जी चाहता है मेरे श्याम, एक खत लिखूं, बिन कलम के खत, लिखा जाता नहीं, बिन खबर...
तेरे जीवन के दिन चार दम आवे ना आवे भजन लिरिक्स

तेरे जीवन के दिन चार दम आवे ना आवे भजन लिरिक्स

तेरे जीवन के दिन चार, दम आवे ना आवे, है राधा नाम आधार, दम आवे ना आवे, है राधा नाम आधार, दम आवे ना आवे।। सोच समझ ले मन में...
तेरे हवाले मेरी गाडी तू जाने तेरा काम जाने भजन लिरिक्स

तेरे हवाले मेरी गाडी तू जाने तेरा काम जाने भजन लिरिक्स

तेरे हवाले मेरी गाडी, तू जाने तेरा काम जाने, तू जाने तेरा काम जाने, तेरे हवाले मेरी गाडी, तू जाने तेरा काम जाने।। एक भरोसा एक ही आशा, चरणों में...
दूर खड़े क्या देख रहे हो सांवलिये सरकार भजन लिरिक्स

दूर खड़े क्या देख रहे हो सांवलिये सरकार भजन लिरिक्स

दूर खड़े क्या देख रहे हो, सांवलिये सरकार, कन्हैया ले चल परली पार, जहां बिराजे राधे राणी, अलबेली सरकार, कन्हैया ले चल परली पार।। तर्ज - साँवरीया ले चल परली...
ऐसी मस्ती कहाँ मिलेगी श्याम नाम रस पी ले भजन लिरिक्स

ऐसी मस्ती कहाँ मिलेगी श्याम नाम रस पी ले भजन लिरिक्स

ऐसी मस्ती कहाँ मिलेगी, श्याम नाम रस पी ले, तू मस्ती में जी ले, तू मस्ती में जी ले, सांचा है दरबार श्याम का, श्याम प्रभु...
श्याम कृपा से जीवन ये सुहाना होता है भजन लिरिक्स

श्याम कृपा से जीवन ये सुहाना होता है भजन लिरिक्स

श्याम कृपा से जीवन ये, सुहाना होता है, खुशियां मिलती है और गम, अंजाना होता है।। तर्ज - प्यार दीवाना होता है। जब थी जरुरत जिसकी, छोड़ा उसने...
श्याम तेरी तस्वीर सिरहाने रख कर सोते है भजन लिरिक्स

श्याम तेरी तस्वीर सिरहाने रख कर सोते है भजन लिरिक्स

श्याम तेरी तस्वीर, सिरहाने रख कर सोते है, यही सोच कर अपने दोनो, नैन भिगोते है, कभी तो तस्वीर से निकलोगे, कभी तो मेरे श्याम पिघलोगे।। नन्हे...
नर रे नारण री देह बनाई नुगरा कोई मत रेवना राजस्थानी भजन

नर रे नारण री देह बनाई नुगरा कोई मत रेवना राजस्थानी...

नर रे नारण री देह बनाई, नुगरा कोई मत रेवना । श्लोक - नुगरा मनक तो मिलो मति, पापी मिलो हजार , एक नुगरा रे...
ओ भूतनाथ बाबा क्या खेल रचाया है भजन लिरिक्स

ओ भूतनाथ बाबा क्या खेल रचाया है भजन लिरिक्स

ओ भूतनाथ बाबा, क्या खेल रचाया है, दुनिया ये रची तूने, सब तेरी माया है, ओ भूतनाथ बाबा, क्या खेल रचाया है।। तर्ज - होंठो से छु लो...
error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।