मैं तो थारो टाबरियो जगदंबे मैया मेहर करो भजन लिरिक्स

0
567
बार देखा गया
मैं तो थारो टाबरियो जगदंबे मैया मेहर करो भजन लिरिक्स

मैं तो थारो टाबरियो,
जगदंबे मैया मेहर करो,
मेहर करो नी मैया मेहर करो,
मै तो थारो टाबरियो,
जगदंबे मैया मेहर करो।।



तू अम्बे तू मात भवानी,

तू दुर्गे माँ काली,
जय जग जननी ज्वाला वरनी,
तू है शेरावाली,
अब आवो ना – 2 देर करो,
जगदंबे मैया मेहर करो,
मै तो थारो टाबरियो,
जगदंबे मैया मेहर करो।।



तारा वरनी चुनर थारी,

चांदङल्यो चमकावे,
माथे बिंदिया झुमका नथनी,
चुङलो यु चमकावे,
गल नोसर – 2 हार खरो,
जगदंबे मैया मेहर करो,
मै तो थारो टाबरियो,
जगदंबे मैया मेहर करो।।



एक हाथ में शंख विराजे,

दुजो खप्परधारी,
तीजे में त्रिशूल विराजे,
चौथो चक्करधारी,
असवारी – 2 सिंह की करो,
जगदंबे मैया मेहर करो,
मै तो थारो टाबरियो,
जगदंबे मैया मेहर करो।।



पूत कपूत मैं जो कुछ मैया,

आख़िर टाबर थारो,
भवसागर अटकेङी नैया,
मैया पार उतारो,
शेरावाली – 2 सिर पर हाथ धरो,
जगदंबे मैया मेहर करो,
मै तो थारो टाबरियो,
जगदंबे मैया मेहर करो।।



मैं तो थारो टाबरियो,

जगदंबे मैया मेहर करो,
मेहर करो नी मैया मेहर करो,
मै तो थारो टाबरियो,
जगदंबे मैया मेहर करो।।

Singer: Namrata Karwa


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम