झुला तो पड़ गए अमुवा की डाल पे माँ भजन लिरिक्स

0
1571
बार देखा गया
झुला तो पड़ गए अमुवा की डाल पे माँ भजन लिरिक्स

झुला तो पड़ गए अमुवा की डाल पे माँ,
झुला डरे हैं अमुवा की डाल पे माँ,
झूले मोरी मैया, री झूले मोरी मैया,
अमुवा की डाल पे माँ,
झुला डरे हैं अमुवा की डाल पे माँ।।



काहे को मैया को बनो हिंडोला,

सो बनो हिंडोला, सो बनो हिंडोला,
काहे को मैया को बनो हिंडोला,
काहे की लागी डोर मोरी मैया,
अमुवा की डाल पे माँ,
झुला डरे हैं अमुवा की डाल पे माँ।।



चन्दन पाठ को बनो हिंडोला,

सो बनो हिंडोला, सो बनो हिंडोला,
चन्दन पाठ को बनो हिंडोला,
रेशम लागी डोर मोरी मैया,
अमुवा की डाल पे माँ,
झुला डरे हैं अमुवा की डाल पे माँ।।



कौना झुले कौना झूलावे,

सो कौना झूलावे, सो कौना झूलावे,
कौना झुले कौना झूलावे,
सो कौना खींचे डोर मोरी मैया,
अमुवा की डाल पे माँ,
झुला डरे हैं अमुवा की डाल पे माँ।।



मैया झूले लँगूरे झुलावे,

सो लँगूरे झुलावे, सो लँगूरे झुलावे,
मैया झूले लँगूरे झुलावे,
हनुमत खेंचे डोर मोरी मैया,
अमुवा की डाल पे माँ,
झुला डरे हैं अमुवा की डाल पे माँ।।



झुला तो पड़ गए अमुवा की डाल पे माँ,

झुला डरे हैं अमुवा की डाल पे माँ,
झूले मोरी मैया, री झूले मोरी मैया,
अमुवा की डाल पे माँ,
झुला डरे हैं अमुवा की डाल पे माँ।।

स्वर – शहनाज़ अख्तर।


https://youtu.be/9bLbB_xY1iM

आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम