जसोल री धनियारी मोटो देवरो सा माजीसा भजन लिरिक्स

0
1755
बार देखा गया
जसोल री धनियारी मोटो देवरो सा माजीसा भजन लिरिक्स

जसोल री धनियारी,
मोटो देवरो सा,
थारे देवलिया में,
थारे मंदरया में,
जागी जगमग जोत,
ओ माजीसा मोटो देवरो सा,
जसोल री धनियारी,
मोटो देवरो सा।।



थारे घेर ने घुमारो,

पहरों घाघरो सा,
थारे चमचम चमके2 ,
तारा जड़ी चुंदरी माजीसा,
मोटो देवरो सा,
जसोल री धणियारी,
मोटो देवरो सा।।



थारे हाथा माही,

चुडो हद सोवणो सा,
थारे छम छम बाजे,
पायल री झनकार ओ माजीसा,
मोटो देवरो सा,
जसोल री धणियारी,
मोटो देवरो सा।।



पिंकी गहलोत री सुनजो,

विनती ओ सा,
थारे शरण आया ने सोरा,
राखजो माजीसा,
मोटो देवरो सा,
जसोल री धणियारी,
मोटो देवरो सा।।



स्वर & लिरिक्स – पिंकी गहलोत।

Cont. – 9772021065


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम