Category: नागर जी भजन

Kamal Kishor Ji Nagar Bhajan

नागर जी भजनविविध भजन

मेरा तार हरी से जोड़े ऐसा कोई संत मिले भजन लिरिक्स

मेरा तार हरी से जोड़े, ऐसा कोई संत मिले।। टुटा तार हुआ अँधियारा, हरि दिखे ना हरी का द्वारा, मेरा […]

नागर जी भजन

मेरी नैया पड़ी है मजधार प्रभु इसे पार लगा देना

मेरी नैया पड़ी है मजधार, प्रभु इसे पार लगा देना, तेरी माला जपूँगा दिन रात, प्रभु इसे पार लगा देना।। […]

नागर जी भजन

अंत समय प्रभु आना पड़ेगा कमल किशोर जी नागर भजन लिरिक्स

अंत समय प्रभु आना पड़ेगा, प्रीत की रीत निभाना पड़ेगा।। आये ना आये चाहे कुटुंब हमारा, भक्तो के प्रभु आप […]

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।